.


Maha Aasmani Param Gyan (Nivasi) Retreat - in Hindi



महाआसमानी परम ज्ञान शिविर


क्या आपको उच्चतम आनंद पाने की इच्छा है? ऐसा आनंद, जो किसी कारण पर निर्भर नहीं है, जिसमें समय के साथ केवल बढ़ोतरी ही होती है। क्या आप इसी जीवन में प्रेम, विश्वास, शांति, समृद्धि और परमसंतुष्टि पाना चाहते हैं? क्या आप शारीरिक, मानसिक, सामाजिक, आर्थिक और आध्यात्मिक इन सभी स्तरों पर सफलता हासिल करना चाहते हैं? क्या आप ‘मैं कौन हूँ’ इस सवाल का जवाब अनुभव से जानना चाहते हैं।

यदि आपके अंदर इन सवालों के जवाब जानने की और ‘अंतिम सत्य’ प्राप्त करने की प्यास जगी है तो तेजज्ञान फाउण्डेशन द्वारा आयोजित ‘महाआसमानी परम ज्ञान शिविर’ में आपका स्वागत है। यह शिविर पूर्णतः सरश्री की शिक्षाओं पर आधारित है। सरश्री आज के युग के आध्यात्मिक गुरु और ‘तेजज्ञान फाउण्डेशन’ के संस्थापक हैं, जो अत्यंत सरलता से आज की लोकभाषा में आध्यात्मिक समझ प्रदान करते हैं।


महाआसमानी परम ज्ञान शिविर का उद्देश्य:


इस शिविर का उद्देश्य है, ‘विश्व का हर इंसान ‘मैं कौन हूँ’ इस सवाल का जवाब जानकर सर्वोच्च आनंद में स्थापित हो जाए।’ उसे ऐसा ज्ञान मिले, जिससे वह हर पल वर्तमान में जीने की कला प्राप्त करे। भूतकाल का बोझ और भविष्य की चिंता इन दोनों से वह मुक्त हो जाए। हर इंसान के जीवन में स्थायी खुशी, सही समझ और समस्याओं को विलीन करने की कला आ जाए। मनुष्य जीवन का उद्देश्य पूर्ण हो।

‘मैं कौन हूँ? मैं यहाँ क्यों हूँ? मोक्ष का अर्थ क्या है? क्या इसी जन्म में मोक्ष प्राप्ति संभव है?’ यदि ये सवाल आपके अंदर हैं तो महाआसमानी शिविर इसका जवाब है।


महाआसमानी परम ज्ञान शिविर के मुख्य लाभ:


इस शिविर के लाभ तो अनगिनत हैं मगर कुछ मुख्य लाभ इस प्रकार हैं...


जीवन में दमदार लक्ष्य प्राप्त होता है।

मैं कौन हूँ’ यह अनुभव से जानना (सेल्फ रियलाइजेशन) होता है।

मन के सभी विकार विलीन होते हैं।

भय, चिंता, क्रोध, बोरडम, मोह, तनाव जैसी कई नकारात्मक बातोें से मुक्ति मिलती है।

प्रेम, आनंद, मौन, समृद्धि, संतुष्टि, विश्वास जैसे कई दिव्य गुणों से युक्ति होती है।

सीधा, सरल और शक्तिशाली जीवन प्राप्त होता है।

हर समस्या का समाधान प्राप्त करने की कला मिलती है।

हर पल वर्तमान में जीना’ यह आपका स्वभाव बन जाता है।

आपके अंदर छिपी सभी संभावनाएँ खुल जाती हैं।

इसी जीवन में मोक्ष (मुक्ति) प्राप्त होता है।


महाआसमानी परम ज्ञान शिविर में भाग कैसे लें
?


इस शिविर में भाग लेने के लिए आपको कुछ खास माँगें पूरी करनी होती हैं। जैसे-


आपकी उम्र कम से कम अठारह साल या उससे ऊपर होनी चाहिए।

आपको सत्य स्थापना शिविर (फाउण्डेशन ट्रुथ रिट्रीट) में भाग लेना होगा, जहाँ आप सीखेंगे- वर्तमान के हर पल को कैसे जीया जाए और निर्विचार दशा में कैसे प्रवेश पाएँ।

आपको कुछ प्राथमिक प्रवचनों में उपस्थित होना है, जहाँ आप बुनियादी समझ आत्मसात कर, महाआसमानी परम ज्ञान शिविर  के लिए तैयार होते हैं।



आप महाआसमानी परम ज्ञान शिविर की तैयारी फाउण्डेशन में उपलब्ध सरश्री द्वारा रचित पुस्तकों, सी.डी. और कैसेटस् सुनकर कर सकते हैं। इसके अलावा आप टी.वी., रेडियो और यू ट्यूब पर सरश्री के प्रवचनों का लाभ भी ले सकते हैं मगर याद रहे, ये पुस्तकें, कैसेट, टी.वी., रेडियो और यू ट्यूब के प्रवचन शिविर का परिचय मात्र है, तेजज्ञान नहीं। आप महाआसमानी शिविर में भाग लेकर ही तेजज्ञान का आनंद ले सकते हैं। आगामी महाआसमानी परम ज्ञान शिविर  में अपना स्थान आरक्षित करने के लिए संपर्क करेंः +91 9921008060, +91 9921008075, +91 7447797317


महाआसमानी परम ज्ञान शिविर स्थान:

महाआसमानी महानिवासी शिविर ‘मनन आश्रम’ पर आयोजित किया जाता है। यह आश्रम पुणे शहर के बाहरी क्षेत्र में पहाड़ों और निसर्ग के असीम सौंदर्य के बीच बसा हुआ है। इस आश्रम में पुरुषों और महिलाओं के लिए अलग-अलग, कुल मिलाकर 700 से 800 लोगों के रहने की व्यवस्था है। यह आश्रम पुणे से 17 किलो मीटर की दूरी पर है। हवाई अड्डा, हाइवे और रेल्वे से पुणे आसानी से आ-जा सकते हैं।


आनेवाले शिविरों की तारीख:

Date
Language
Reporting
Retreat Ends On
Venue
Google Map Address
Registration Link
5th February - 10th February 2019 Hindi Between 11:00 am - 1:00 pm IST (5th Feb) 6:30 pm (10th Feb, Sunday) MaNaN Ashram, Pune, India Way to MaNaN Ashram
Click here for Online Registration
* This retreat is also conducted in English for 4 days called the Magic of Awakening Retreat.. Click here to more detail